• info@thesyaahi.com

Category: Poetries

भारत माँ के लाल होते हैं- मो. ज़ाहिद हुसैन

तिरंगे की हिफाज़त के लिए, तिरंगे मे ही लिपट कर आ जाते हैं..!! वो शेर कोई और नहीं, भारत माँ

क्यू नींद मेरी मुझसे ख़फ़ा सी हैं?

“क्यू नींद मेरी मुझसे ख़फ़ा सी हैं, क्यू हर पल एक डर सा हैं, क्यू नींद में मीठे सपने नही,

पाताल का मैं तारा हूँ

पाताल का मैं तारा हूँ। हारा हुआ, मारा हुआ हर ज़ख्म से छलनी हुआ खुद के नज़रो से गिरा हुआ

कोई किसी से ख़ुश हो और वो भी बारहा हो– Nida Fazli

कोई किसी से ख़ुश हो और वो भी बारहा हो ये बात तो ग़लत है रिश्ता लिबास बन कर मैला

My Valentine Girl- Sachin Sarthak

कुछ लड़कियां न बड़ी अजीब होती है , उनमें से एक तुम हो ! बड़ी बातुनी टाइप की … और

मुल्क को कुछ इस तरह बदनाम करते है ।

हमारे मुल्क को कुछ इस तरह बदनाम करते है , भुलाकर अपनी संस्कृति जश्न ए जाम करते है , जो

पुष्प की अभिलाषा- माखन लाल चतुर्वेदी

चाह नहीं, मैं सुरबाला के गहनों में गूँथा जाऊँ चाह नहीं प्रेमी-माला में बिंध प्यारी को ललचाऊँ चाह नहीं सम्राटों

याद हैं बस तेरा होने तक

तुमसे मिला था जब सफर मे, याद हैं बस तेरा होने तक फिर से हम मिले या ना मिले, याद

कभी तो अपने ज़ज़्बात को हमारा कर दो।

.कभी तो अपने ज़ज़्बात को हमारा कर दो होंठो से कुछ न कहो तुम आँखो से ज़रा इशारा कर दो

इश्क है तो इश्क का इजहार होना चाहिये- मुनव्वर राना

इश्क है तो इश्क का इजहार होना चाहिये आपको चेहरे से भी बीमार होना चाहिये आप दरिया हैं तो फिर